Category: Bewafa Shayari

Wo Nazare Poem Lyrics- Kumar Vishwas 0

Wo Nazare Poem Lyrics- Kumar Vishwas

” वो नज़ारे जो कभी शौक ऐ तमन्ना थे मुझे, कर दिए एक नज़र में ही पराये उसने, रंगे – दुनिया भी बस अब स्याह और सफ़ेद लगे, मेरी दुनिया से यूँ कुछ रंग...